Sale!

TRUEAYUR Shatavari Juice 1000ml

299.00

Beneficial in-

-Proper functioning of the Female Reproductive System

-Preventing Hormonal Imbalances

-Preventing Kidney and Heart diseases.

-Treating carcinogens

-Treating Cholrestrol and Gastric problems.

सेवन विधि – 30ml ज्यूस बराबर मात्रा में गुनगुने पानी के साथ दिन में 2 बार खाना खाने के 45 मिनट बाद

Description

शतावरी भारत के हिमालय क्षेत्रों में एक प्रकार की जड़ी-बूटी है। इसकी लता फैलने वाली, और झाड़ीदार होती है। एक-एक बेल के नीचे कम से कम 100, इससे अधिक जड़ें होती हैं। ये जड़ें लगभग 30-100 सेमी लम्बी, एवं 1-2 सेमी मोटी होती हैं। जड़ों के दोनों सिरें नुकीली होती हैं।इसका उल्लेख भारत के औषधियों से जुड़े प्राचीन ग्रंथों में भी किया गया है| इसकी उपयोगिता इतनी ज्यादा है कि आयुर्वेद में इसे जड़ी बूटियों की महारानी का स्थान प्राप्त है| यह एक स्वस्थ पोषक तत्व से समृद्ध वनस्पति है जिसमें वसा और कोलेस्ट्रॉल सामग्री नहीं होती| इसमें बहुत कम कैलरी तथा सोडियम है एवं विटामिन ए, सी, ई,  बी सिक्स, फोलेट, आयरन, जिंक, कैल्शियम, प्रोटीन, और फाइबर जैसे खनिजों की एक विस्तृत श्रृंखला है| स्त्री रोगों की समस्याओं के लिए यह अत्यंत लाभदायक है| वजन घटाने के लिए, किडनी, हॉट से जुड़ी समस्या, कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए एवं कोलेस्ट्रॉल व गैस्ट्रिक अल्सर जैसी समस्याओं का यह समाधान करता है|

इसके अलावा भी कई रोगों से अपने आप को मुक्त रखने के लिए आप TRUEAYUR का शतावरी जूस का रोजाना नियमित सेवन करें तथा इसका लाभ उठाएं|

– वजन घटाने के लिए फाइबर युक्त और कम कौलोरी वाली डाइट ज्यादा फायदेमंद मानी जाती है। यहां शतावरी आपकी मदद कर सकती है। इसमें कैलोरी की मात्रा कम पाई जाती है, जिससे वजन को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है

– शतावरी के फायदे कैंसर जैसी गंभीर बीमारी में भी देखे जा सकते हैं। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार,शतावरी में सल्फोराफेन (Sulforaphane) नामक एक यौगिक पाया जाता है, जो किमो प्रिवेन्टिव (कैंसर रोधी) गुण से समृद्ध होता है। शतावरी में सल्फोराफेन की मौजूदगी कैंसर के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है

– शतावरी के स्वास्थ्य संबंधी फायदे मधुमेह में भी देखने को मिल सकते हैं। एक एंटीडायबीटिक के रूप में शतावरी का प्रयोग लंबे समय से किया जा रहा है।शतावरी एंटी हाइपर ग्लाइसेमिक (खून में ग्लूकोज की मात्रा को कम करने की क्रिया) क्रिया को बढ़ाने का काम कर सकता है, जिससे मधुमेह के खतरे को रोकने में मदद मिल सकती है।

– यह चेहरे की सफाई के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। यह त्वचा की समस्याओं जैसे कि घावों और मुँहासे को रोकने और उपचार करने मे मदद करता है। एंटीऑक्सिडेंट ग्लूटाथियोन त्वचा को सूरज की क्षति और प्रदूषण से बचाने में मदद करता है।

Shatavari is a commonly growing, wild plant found in the Himalayan regions of India. References of this plant and its usage have been found in the ancient medicinal texts of Ayurveda. Its wide range of usages has earned it the title of the ‘Maharani of herbs’ in Ayurveda. It is a great source of phytochemicals that promote health and play an important role in strengthening the immunity system and fighting oxidative stress. It is a storehouse of minerals, vitamins, antioxidants, and other nutrients vital for our body. Including TRUEAYUR Shatavari juice in your daily diet, fills you with the goodness of this miraculous herb.